Home / अन्य / गोरखा प्रदेश की तत्काल स्थापना हो : हिन्दू महासभा

गोरखा प्रदेश की तत्काल स्थापना हो : हिन्दू महासभा

नई दिल्ली : आज जंतर-मंतर पर गोरखा प्रदेश के समर्थन में एवं बंगाल की ममता बनर्जी सरकार की दमनकारी नीति के विरुद्ध रविवार, दिनांक 18/06/2017 को प्रचंड रूप से गोरखा जनमुक्ति मोर्चा(GJM), गोरखा राज्य जन-मोर्चा, हिन्दू महासभा एवं अन्य संगठनों के नेतृत्व में विशाल प्रदर्शन हुआ और ममता बनर्जी की दमनकारी नीति की निंदा भी की गई ! ममता बनर्जी ने राष्ट्रभक्त गोरखाओं को आतंकवादी कहा था और वो ऐसा कह कर गोरखाओं और बंगालियों में वैमनष्यता पैदा कर रही हैं !

ममता बनर्जी से बंगाल नही संभल रहा है और पूरा बंगाल अतिवादी इस्लामिक गतिविधियों का केंद्र बन चुका है और वहां अराजकता फैली हुई है, बंगाल में हिन्दुओं को काली पूजा की ममता बनर्जी सरकार द्वारा अनुमति नही मिलती है और उसके लिए उन्हें बंगाल के उच्च न्यायलय में जाना पड़ता है तब जाकर बंगाली हिन्दू काली पूजा कर पाता है ! तृणमूल कांग्रेस के मुस्लिम नेता और मौलवी खुलेआम हिन्दुओं को गाली देते हैं और भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने की धमकी देते हैं और ममता ऐसे लोगों को लाल बत्ती लगी हुई गाडी देती है ! ममता बनर्जी की पार्टी के लोग शारदा घोटाले से जुड़े हुए हैं और वे लोग गरीब बंगालियों की जमा पूंजी डकार चुके हैं ! सेना को गाली देने वाली ममता बनर्जी आज गोरखाओं को मारने के लिए केंद्र से सेना भेजने की मांग रखती है ! ममता बनर्जी सरकार द्वारा दार्जीलिंग, कलिम्पोंग क्षेत्र में बंगलादेशी मुसलमानों को बसाकर गोरखाओं का रोजगार छिना जा रहा है और गोरखाओं की संस्कृति को नष्ट की जा रही है !

केंद्र सरकार की यदि इच्छाशक्ति प्रबल है तो विशेष सत्र बुलाकर गोरखा प्रदेश बनवा सकती है लेकिन ऐसा पूर्व में किसी भी दल या सरकार ने नही किया, यहाँ तक की मोदी जी के आहवान पर दार्जीलिंग की जनता ने विश्वास करके एस. एस. आहलुवालिया को सांसद बनाया लेकिन वे भी विमुख रहते हैं और जिस तरीके गोरखा राज्य की स्थापना हेतु उन्हें आन्दोलन का नेतृत्व करना चाहिए था वो भी नही किया !

हिन्दू महासभा गोरखाओं को विश्वास दिलाती है की गोरखा प्रदेश की स्थापना हेतु नीति बनाकर केंद्र पर दबाब बनाया जायेगा और यदि जरुरी हुआ तो अन्य विकल्प भी अपनाए जायेंगे !

जय जय जय महाकाली

आयो आयो गोरखाली

जय हिन्दू राष्ट्र

भारत माता की जय

योगी ब्रह्मऋषि

(डॉ संतोष राय)

About Akhil Bharat Hindu Mahasabha