Home / अन्य / ये है योगी की चहेती गाय, जीभ से यूं खोल देती है गेट की कुंडी

ये है योगी की चहेती गाय, जीभ से यूं खोल देती है गेट की कुंडी

गोरखपुर.यूपी के गोरखपुर में गोरक्षनाथ मंदिर में रह रही सीएम योगी आदित्यनाथ की गाय और सांड कोई मामूली नहीं हैं। योगी की तरह ही इनमें भी एक से बढ़कर एक खूबियां हैं। वो इन्हें बहुत प्रेम करते हैं और ये सभी उन्हें अपना मानती हैं। इनमें से एक है ‘सोकनी गाय’, जो गौशाला के गेट में लगी कुंडी खुद अपनी जीभ और दांतों के सहारे खोलकर बाहर निकल लेती है। योगी ने सभी का रखा है नाम…

– गोरक्षपीठ, गायों की रक्षा का केंद्र मानी जाती है। सीएम योगी यहीं के पीठाधीश्वर हैं। इनके मठ में गौशाला सेवा केंद्र है, जिसमें गायों की संख्या 400 हैं।

– योगी गोरखपुर में रहने के दौरान रोजाना सुबह इनको चारा खिलाते हैं। योगी की एक आवाज पर ये गाय उनके पास पहुंच जाती हैं।

– गायों के बच्चे तो योगी को अतिप्रिय हैं। उन्होंने सभी का कुछ न कुछ उनकी आदतों के आधार पर नामकरण किया हुआ है।

गायों में हैं ये खासियत

– ‘सोकनी गाय’ की खासियत ये है कि वो गौशाला में लगे गेट की कुंडी अपनी जीभ और दांतों के सहारे खोलकर सहेलियों के साथ मंदिर परिसर में भ्रमण के लिए निकल जाती है।

– ‘सनकहिया गाय’ वैसे तो काफी सीधी है, लेकिन जैसे ही वो बच्चे को जन्म देती है, उसके पास कोई जा नहीं सकता।

– उसके खुले रहने पर योगी के अलावा कोई अन्य नहीं जा सकता है। वही उसे कंट्रोल करते हैं।

हाव-भाव और आंखें देखकर योगी जान जाते हैं इनका दर्द

– पाकड़ के पेड़ के नीचे जैसे ही योगी सुबह 5 बजे के बाद पहुंचते हैं। वे गायों को उनके नाम से पुकारते हैं।

– गायों के सेवक मान मोहम्मद बताते हैं कि योगी जी गाय के छोटे बच्चे को दुलारते हुए जान जाते हैं कि किसने दूध नहीं पिया है और कौन भूखा है।

Source : bhaskar

About Akhil Bharat Hindu Mahasabha